उपलब्ध पाठ्यक्रम

कोर्स के बारे में

सुखी और संपन्‍न जीवन के निर्धारक क्‍या है ?

यह निश्चित रूप से जीवन का सबसे बड़ा सवाल हैऔर एक ऐसा सवाल है, जिसमें हमारे कई पूर्वजों  को दिलचस्‍पी रही है । गौतम बुद्ध ने प्रसन्‍न्‍ता की तलाश में अपना राज्‍य छोड़ दिया। कई ग्रीक दार्शनिकों (अरस्‍तु से एपिकुरस और प्‍लेटो से सुकरात तक) के अपने स्‍वयं के विचार थे कि खुश होने के लिये क्‍या चाहिये । और हॉ,  हम सभी के खुशी के बारे में अपने-अपने सिद्धांत है।

हमारे ये सिद्धांत कितने मानने योग्‍य है ?

कुछ समय पहले तकयदि आप इस प्रश्‍न के उत्‍तर की कामन करतेतो आपको आध्‍यात्मिक गुरूओं के साथ विचार–विमर्श को आधार मानने के लिए मजबूर होना पडेगा। यायदि आप भाग्‍यशाली रहें,  तो आप इसे दोस्‍तों और परिवार के साथ आध्‍यात्मिक चर्चा पर आधारित कर सकते थे। खुशी की बात है कि अब समय बदल गया है। पिछले डेढ दशक में वैज्ञानिकों ने इस कार्य को काफी हद तक पूर कर लिया है। अब हमें इस बात पर अच्‍छी जानकारी है कि एक खुशहाल और परिपूर्ण जीवन जीने के लिये क्‍या आवश्‍यक है।

यह कोर्स इंडियन स्‍कूल ऑफ बिजनेसहैदराबाद एवं आस्टिन में टेक्‍सास विश्‍वविद्यालय में मैककॉम्‍स स्‍कूल ऑफ बिजनेस में पुरूस्‍कार विजयी क्‍लास सं‍चालित करने वाले प्रो. राज रघुनाथन (उर्फ डा. हैप्‍पी-र्स्‍माट) द्वारा विकसित किया गया है। यह कोर्स विभिन्‍न क्षेत्रों  की सामग्री,   जिसमें मनोविज्ञानतंत्रिका विज्ञान और व्‍यवहार निर्णय सिंद्धांत शामिल है, के आधार पर खुश एवं तृप्‍त जीवन जीने का एक व्‍यवहारिक एवं परीक्षण् किया हुआ नुस्‍खा प्रदान करता है।

हैदराबाद स्थित इंडियन स्‍कूल आफ बिज़नेस (आई.एस.बी.) द्वारा  चलाये जा रहे इस वीडियो कोर्स को मध्‍यप्रदेश में भी चलाये जाने के संबंध में राज्य आनंद संस्‍थान द्वारा पहल की गई हैं। राज्‍य आनंद संस्‍थान द्वारा अलोहा वीडियो कोर्स को हिन्‍दी में अनुवाद करने तथा अपने नागरिकों को भी इस कोर्स का लाभ देने के लिए आईएसबी टीम के साथ एक एमओयू निष्‍पादित किया गया है ।

इस कोर्स के करने से आपको इन प्रश्‍नों के उत्‍तर पता चल सकेगें, जैसे :- .

·      र्स्‍माट एवं सफल व्‍यक्ति  उतने खुश क्‍यो नही है, जितना उन्‍हें होना चाहिये या हो सकते हैं ।

·      खुशी को कम करने वाले इसे कौन से 7 घातक पाप है, जो र्स्‍माट एवं सफल व्‍यक्ति करते है ।

·      बहुत खुश व्‍यक्तियों की सात कौन सी अच्‍छी आदते है और आप उन्‍हें अपने जीवन में कैसे लागू कर सकते है ।

इस कोर्स के अन्‍त तक हम उन छात्रों से, जिन्‍होनें व्‍याख्‍यानो एवं अभ्‍यासों के साथ मेहनत की है, यह उम्‍मीद कर सकते है कि, उन्‍हें न केवल खुशी के विज्ञान की गहरी समझ हासिल होगी, बल्कि वे पहले से ज्‍यादा खुश भी होंगे ।

पाठ्यक्रम एवं असाइनमेंट:

सम्‍पूर्ण कोर्स 6 सप्‍ताह का है। प्रत्‍येक सप्‍ताह में कुछ वीडियो व्‍याख्‍यान और संबंधित अभ्‍यास कार्य है। प्रत्‍येक सप्‍ताह की सामग्री को एक सप्‍ताह में आसानी से पूरा किया जा सकता है। कोर्स को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि छात्र को अगले सप्‍ताह की सामग्री पर जाने से पहले, पूर्व के सप्‍ताह के वीडियो व्‍याख्‍यान और असाइनमेंट पूरे करने होंगे।

प्रत्‍येक सप्‍ताह में ग्रेड वाले तथा बिना ग्रेड वाले असाइनमेंट है। छात्र/प्रतिभागी ग्रेड किए गए असाइनमेंट में स्‍कोर करेगें तथा उनका स्‍कोर ‘’Grades’’ टेब पर दिखाई देगा।

प्रत्‍येक असाइनमेंट में ग्रेड दिये जाने के संबंध में विस्‍तृत निर्देश है। इस कोर्स में निम्‍न प्रकार के असाइनमेंट शामिल है :-

                                     I.         बहुविकल्‍पीय प्रश्‍न (प्रत्‍येक सप्‍ताह के अंत में)

                                    II.         सेल्‍फ-ग्रेडेड असाइनमेंट

                                  III.         पीयर-ग्रडेड असाइनमेंट

                                 IV.         नान -ग्रेडड असाइनमेंट

                                   V.         क्विज (20 बहुविकल्‍पीय प्रश्‍न)

      I.         बहुविकल्‍पीय प्रश्‍न (प्रत्‍येक सप्‍ताह के अंत में): प्रत्‍येक सप्‍ताह के अंत में, वीडियों व्‍याख्‍यान के बाद, बहु-विकल्‍पीय प्रश्‍न दिये गये है। ये प्रश्‍न उस सप्‍ताह के वीडियो व्‍याख्‍यान पर आधारित है। छात्र/प्रतिभागी इन प्रश्‍नों के उत्‍तर देते समय वीडियों व्‍याख्‍यान का संर्दभ ले सकते है।

    II.         सेल्‍फ-ग्रेडेड असाइनमेंट: इस कोर्स में कुछ असाइनमेंट सेल्‍फ-ग्रेडेड है अर्थात छात्र/प्रतिभागी को स्‍वयं अपना मूल्‍यांकन करना है। छात्रो/प्रतिभागीयों से उम्‍मीद है कि वे असाइनमेंट में दिए गये निर्देशो का पालन करेंगे। असाइनमेंट को पूरा करने के बाद छात्र/प्रतिभागी स्‍वयं को ग्रेड करेगे ।

   III.         पीयर-ग्रेडेड असाइनमेंट: इस कोर्स में कुछ पीयर–ग्रेडेड असाइनमेंट है। छात्र/प्रतिभागी असाइनमेंट मे दिये गये निर्देशो का पालन करेगें और अपना असाइनमेंट प्रस्‍तुत करेगें। एक बार छात्र अपना असाइनमेंट पूरा कर देता है तो वह अपने सहकर्मी के असाइनमेंट को ग्रेड देने के लिये पात्र होगा। सहकर्मी (एक ही समय में इस कोर्स को करने वाला अन्‍य छात्र) द्वारा प्रस्‍तुत कार्य ग्रेड करने वाले अन्‍य छात्र को ग्रेडिंग के लिए दिखाई देगा। ग्रेडिंग करने वाले छात्र द्वारा असाइनमेंट में दिये गये ग्रेडिग निर्देशो के अनुरूप ग्रेडिग की जावेगी।

प्रत्‍येक छात्र को सहकर्मी ग्रेडिंग-असाइनमेंट को सफलतापूर्वक पूरा करने के लिये कम से कम एक सहकर्मी के असाइनमेंट को ग्रेड करना होगा ।

  IV.         नान-ग्रेडेड असाइनमेंट: इस कोर्स के कुछ असाइनमेंट नान-ग्रेडड है, अर्थात उक्‍त असाइनमेंट के लिये छात्र को कोई ग्रेड नही दिया जायेगा। छात्र/प्रतिभागी को असाइनमेंट के निर्देशों के अनुरूप असाइनमेंट को पूरा करना होगा।

    V.          क्विज: इस कोर्स में बहुविकल्‍पीय क्विज भी है। ये क्विज कोर्स के उस भाग तक पूर्ण किये गये सभी वीडियों व्‍याख्‍यान पर आधारित होगे। इन क्विज को भी ग्रेड किया जायेगा।

कोर्स टाइमलाइन एवं फीस:

कोर्स को आदर्श स्थिति में 6 सप्‍ताह में पूर्ण किया जा सकता है। परंतु कोर्स को पूरा करने के लिये प्रत्‍येक छात्र/प्रतिभागी को अधिकतम 52 सप्‍ताह का समय दिया जाएगा। यदि छात्र/प्रतिभागी पंजीकरण के 52 सप्‍ताह के भीतर कोर्स पूरा नही करता है तो छात्र/प्रतिभागी को कोर्स करने के लिये फिर से नये छात्र के रूप में पंजीकरण करना होगा।

यह कोर्स नि:शुल्‍क है। परंतु छात्र/प्रतिभागी कोर्स पूरा करने के बाद प्रमाण-पत्र प्राप्‍त करने का विकल्‍प चुन सकता है। इस विकल्‍प को चुनने पर कोर्स फीस रू 500 के भुगतान के बाद ही छात्र/प्रतिभागी को प्रमाण-पत्र जारी किया जायेगा।

प्रमाण पत्र प्राप्‍त करने के लिए प्रतिभागी को कोर्स पूरा करने के पश्‍चात राज्‍य आनंद संस्‍थान को
E-mail : anandsansthanmp@gmail.com पर सूचित करना होगा कि उन्‍होने कोर्स पूरा कर लिया है ।

संस्‍थान द्वारा प्रतिभागी के द्वारा पूर्ण किए गए कोर्स तथा असाइनमेंट की जांच की जावेगी । सभी असाइनमेंट एवं क्विज पूर्ण होने की स्थिति में संस्‍थान की सूचना पर प्रतिभागी को प्रमाण – पत्र शुल्‍क के रूप में रू. 500/- संस्‍था के बैंक एकाउण्‍ट, जिसका विवरण नीचे दिया गया है जमा करना होगा ।     

बैंक अकाउंट में राशि जमा करने के उपरांत प्रतिभागी को उसकी रसीद ईमेल के माध्यम से संस्थान को भेजना होगा। शुल्क प्राप्त होने की पुष्टि के पश्चात प्रतिभागी का प्रमाण पत्र उन्हें ईमेल के माध्यम से प्रेषित किया जावेगा।

 

बैंक का विवरण

बैंक का नाम -   STATA BANK OF INDIA

बचत खाता क्र- 37218702148

IFSC Code  -  SBIN0030382

 



Site announcements

अलोहा: ए लाइफ ऑफ़ हैप्पीनेस एंड फुलफिल्मेंट

by System Administrator -

यह हैप्पीनेस कोर्स इंडियन स्‍कूल ऑफ बिजनेस, हैदराबाद एवं आस्टिन में टेक्‍सास विश्‍वविद्यालय में मैककॉम्‍स स्‍कूल ऑफ बिजनेस में पुरूस्‍कार विजयी क्‍लास सं‍चालित करने वाले प्रो. राज रघुनाथन (उर्फ डा. हैप्‍पी-र्स्‍माट) द्वारा विकसित किया गया है। यह कोर्स विभिन्‍न क्षेत्रों  की सामग्री,  जिसमें मनोविज्ञान, तंत्रिका विज्ञान और व्‍यवहार निर्णय सिंद्धांत शामिल है, के आधार पर खुश एवं तृप्‍त जीवन जीने का एक व्‍यवहारिक एवं परीक्षण् किया हुआ नुस्‍खा प्रदान करता है। 


(Edited by Course Admin - original submission बुधवार , 22 अप्रेल 2020, 11:42 अपराह्न)